What is SEO and How Does it Work ? सर्च इंजन Optimization क्या होता है - Black Hat SEO vs White Hat SEO - Explained By Ainesh Kumar // PART-1

What is SEO and How Does it Work ? सर्च इंजन Optimization क्या होता है - Black Hat SEO vs White Hat SEO-/ SEO काम कैसे  करता  है  - Explained By Ainesh Kumar

search-engine-optimization-kya-hote-hai-in-hindi
Seo kya hai

दोस्तों आप सब तो जानते ही होंगे SEO का Full Form मुझे बताने की जरूरत नहीं है, लेकिन आज हम इसी Topic पर बात करेंगे इसीलिए हम आज सब कुछ जानेंगे SEO के बारे में। 

आप ने SEO को कही न कही सुना होगा अगर आप इस जगह नए  है तो जैसे की Internet पर या फिर किसी दोस्त से या फिर कही Digital Marketing,इत्यादि। 

आप के मन में भी सवाल तो आया ही होगा की आखिर ये Seo क्या है , ये काम कैसे करता है , इसके करने से क्या होता होगा,इत्यादि। 

अगर आप को इस सब के सवाल जानने है, तो बस आप को शुरू से लेकर अंत तक रहना है, आप सब कुछ बहुत ही आसान भाषा में समझ जायेंगे। 

तो बिना देर किये आइये शुरू करते है ...Let's Get Started...

दोस्तों ये तो सभी जानते है की SEO का पूरा मतलब Search Engine Optimization होता  है। 

SEO किसी भी Website की Ranking Increase  करने के लिए  किया जाता है। ज्यादा से ज्यादा लोग उस वेबसाइट को देखें इसके लिये SEO करना जरुरी है।  

Actually, SEO का सीधा संबंध Search Engine से होता है,इस स्तिथि में जब आप SEO करते है तब आप के द्वारा लिखी हुई Website को SEO, Search engine में Top पर लाने की कोशिश करता है ताकि आप के  Website पर Traffic Increase हो सके और आप के भी Website Search Engine में 1st Page पर दिख सके। 

इस स्थिती में,हम जो TAG इस्तेमाल करते है ,Article लिखते वक्त वही हमे मदद करता है Top पर आने के लिए। Example के लिए ....मैंने इस ब्लॉग में कुछ Tag इस्तेमाल किया है जैसे seo क्या है, how does seo work , White Hat SEO और Black Hat SEO, इत्यादि। बड़ी - बड़ी कम्पनीज भी अपना एक Website बनाते है ताकि वो अपना Service दे सके और अपना Product भी अच्छी दामों पर बेच सके। परन्त्तु अगर कोई लोग उनके Website पर Visit ही नहीं करते है तो उनके Product कैसे बिकेंगे। इसीलिए वो और हम लोग जो अपने Website को Top Rank पर लाना चाहता है उसे SEO करना पड़ता है। 

ताकि हमारा भी वेबसाइट सर्च इंजन के Ranking में Top 10 पर आ सके। क्योकि, आप भी जानते है जब हम कुछ ऑनलाइन खरीदना चाहते है तो हम सिर्फ Google द्वारा दिया हुआ 1 या 2 Page ही देखते है बाकि हम देखते ही नहीं। 

Search Engine में Top 1 और 2 पर आने का मतलब ही है की आप की Website,Google की नजरों में महान है।  
google-search-engine
Top Rank On Google Search Engine



अगर आप Seo को एक लाइन में समझना चाहते है तो आप यह जान ले कि Google वही Content को पसंद करता है जिसे User पढ़ना पसन्द करते है। जिसे वह Content अपने आप First Page पर चला जाता है। और अगर पसंद नही करते तो धीरे- धीरे नीचे चला जाता है। यह Google Seo का सबसे Important Factor है।

यह भी पढ़े:-What is backlink in hindi- बैकलिंक क्या होता है और बैकलिंक्स के लिए क्यों जरुरी है- Backlinks se blog ke ranking kaise- seo ke liye backlinks kaise banaye


इसलिए Google Search Engine अपने User Experience बढ़ाने  के लिए SEO FACTOR का इस्तेमाल करता है ताकि उनके User को Fastly और Correctly Information दे सके।
हर Search Engine के अपने SEO FACTOR होते है। आज के समय मे Google सबसे बड़ा Search Engine है जो पूरी दुनिया मे सबसे ज़्यादा इस्तेमाल किया जाता है। Google लगभग 200 Seo Factor पर काम करता है।

SEARCH ENGINE क्या होता है ???

Search Engine अपना  Algorithms इस्तेमाल करके हमारे द्वारा माँगा गया सवाल का जबाब ढूंढ कर देते है वो भी Instant Of Time में। 
इसके लिए वह अपने डेटा Base में मौजूद जानकारी को Fastly Crawl करते है  साथ ही Index और Rank देता है, जिसे SNRP कहते है। 
SNRP :- इसका Full Form होता है Search engine Result Page . आप ने गौर किया होगा की जब भी आप को किसी चीज़ के बारे में जानना है और जब आप Google के Search Box में Search करते है तब जो Pages निचे खुल के आता है वो SNRP  कहलाता है। 
serp-and-organic-results-in-hindi
SERP And Organic Results

आज के समय में Google Search Engine सबसे Fastly काम करता है और यूँ कहे की 75 % लोग सिर्फ Google से ही Search करते है। 
Organic or Inorganic Results kya hai :- अब मान लीजिये की आप ने कुछ सर्च किया है और जो page खुल के आया वो SERP है। ठीक है !
लेकिन इस SERP में भी दो Listings होती है जिसे Organic और Inorganic Result कहते है। 
Inorganic Result में आप को पैसे देने होते है Google को ताकि आप की Website टॉप में Rank कर सके।
जबकि, Organic Result में आप अपने Website को Free में टॉप Rank में लाते है इसके लिए आप एक रुपए भी खर्च नहीं करते है। 
पर इसके लिए यानी टॉप Searching में आने के लिए आप को SEO करना होता है। 
SEO बहुत जरुरी है किसी भी Website को Top पर लाने के लिए ताकि आप को एक Organic Traffic मिल सके। 
यह भी पढ़े:-On page seo kya hai in hindi- On page seo kya hota hai- ऑन पेज seo क्या है- kaise karte hai-On page seo meaning in hindi

दोस्तों इसकी Popularity का अंदाजा इसी बात से लगया जा सकता है की जब भी आप को कोई जानकारी चाहिए होती है तो आप Direct Google पर Search करते है और उस वक्त इस Search Engine अपने  Rules या SEO की भाषा में कहे तो Algorithms की सहायता से आप को वो Knowledge वाला Page ला कर देते है, जिस चीज़ के लिए आप उस वक्त Google किये है। 
कुछ Popular Search Engine है, जैसे :- Google, Bing और Yahoo,इत्यादि।  

Search Engine कैसे काम करता है - In Hindi 

दोस्तों हर समय कोई न कोई लोग Google का इस्तेमाल करता ही है और इस वजह से Google के Search Engine के Algorithms काम करता रहता है। और इस में Mainly 3 Steps  है जिसके वजह से कोई भी Website Google Search Engine में Top पर होता है। Search Engine के BOTS & SPIDER हर घंटे या यूँ कहे की 24 घंटे नए - नए Algorithms के माध्यम से Website को टॉप Ranking List में लाते है,जो User के द्वारा बार - बार SNRP इस्तेमाल किया जाता है। 

crawling-method-in-hindi
Google Crawling Method
वो 3 Steps है,
  • CRAWLING
  • INDEXING और 
  • RANKING
CRAWLING :- आप जो देखना चाहते है या आप जो जानना चाहते है वो आप Google में Search करते है और आप के द्वारा Search किये गए Page को Search Spider या Bots Scan करता है इसी प्रक्रिया को CRAWLING कहते है। 
INDEXING :- अब आप के Page जिसे Search Spider ने Scan किया है उसके Content को आप के Google Search Engine में Index किया जाता है और इसी Process को INDEXING कहते है। 
RANKING :- अब आप के द्वारा Search किया गया कुछ Pages SNRP के रूप में दिखाई देगा जो Google Search Engine के Algorithms को Follow करता हो और वो Pages या Website Rank करता है और इसी प्रक्रिया को RANKING कहते है। 

SEO के प्रकार = Types  Of  SEO 

SEO के 2 प्रकार होते है ___
  1. On Page SEO
  2. Off Page SEO                                        

On Page SEO से हमारे Website पर Organic Traffic आते है। On Page SEO के तहत हम अपने Website को SEO के Rules के हिसाब से Setup करते है और इसी तरह के प्रक्रिया को On Page SEO कहा जाता है। 
इस स्थिति में आप के द्वारा SEO सेटिंग से आप के Website पर Organic Traffic Increases होने लगता है।
निचे कुछ उदाहरण दिए गए है, जो On Page SEO के Factors के रूप में जाना जाता है ___
  • URL Structure
  • Meta Tags
  • Title Tags
  • Website Structure
  • Google Sitemap
  • HTML Source Code
  • Social Media Button
  • Google Analytics &
  • Highlighted Important Keywords
Off Page SEO में आप अपने Website को Search Engine में लाने के लिए अपने वेबसाइट के लिंक  को Share करते है या  Promote करते है URL Link के द्वारा इसी प्रक्रिया को Off Page SEO के रूप में जाना जाता है। 

Off Page SEO करने के बहुत सारे तरीके है जिनके माध्यम से आप अपने Website को Top Rank में ला सकते है। 

निचे कुछ उदाहरण दिए गए है, जो Off  Page SEO के Factors के रूप में जाना जाता है ___

1. Social Networking Sites

  • Facebook 
  • Facebook Page
  • Facebook Group.

2. Social Bookmarking Sites

  • Pinterest   
  • Linkedin
  • Tumblr
  • Diggo & 
  • Reddit  

3. Video Sharing Site

4. Photo Sharing Site

5. Search Engine Submission 

6. Forum Posting

7. Blog Commenting

8. Blog Directory Submission 

9. Quora &

10. Questioning & Answering Site


SEO Techniques ke PRAKAR = Types Of  SEO Techniques

1. White Hat SEO

2. Black Hat SEO


नाम से ही पता चलता है की एक Negative है जबकि दूसरा Positive है। इन दो दृष्टिकोणों के बीच सबसे बड़ा अंतर यह है कि White Hat SEO Google के दिशानिर्देशों का पालन करता है और उपयोगकर्ता के अनुभव में सुधार करता है, जबकि Black Hat SEO उन दिशानिर्देशों का उल्लंघन करता है और आमतौर पर मानव उपयोगकर्ताओं के लिए पूरी उपेक्षा के साथ किया जाता है।

WHITE HAT SEO


संक्षेप में, यह किसी साइट को अनुकूलित करने के सही, नैतिक तरीके को संदर्भित करता है।

लेकिन आपको क्या मतलब है, इसके बारे में अधिक ठोस विचार देने के लिए, एक White Hat की रणनीति निम्नलिखित 2  मानदंडों को पूरा करती है।



1. यह खोज इंजन दिशानिर्देशों का अनुसरण करता है। 

White Hat SEO की सबसे व्यापक रूप से स्वीकृत परिभाषा यह है कि यह Google के वेबमास्टर दिशानिर्देशों का पालन करता है।

ये वे नियम हैं जो Google ने किसी साइट को अनुकूलित करने के उचित तरीके को परिभाषित करने के लिए निर्धारित किए हैं।

और जब वे "नैतिक"  SEO रणनीति की तरह दिखते हैं, तो वे थोड़ा विस्तार में जाते हैं, उन्हें अनिवार्य रूप से एक सरल विचार के साथ सम्‍मिलित किया जा सकता है: यह हेरफेर नहीं होगा।

इसलिए, सामान्य तौर पर, यदि आप रैंकिंग में हेरफेर करने का प्रयास नहीं कर रहे हैं या Google के एल्गोरिथ्म को धोखा नहीं दे रहे हैं, तो आप संभवतः उनके दिशानिर्देशों का पालन कर रहे हैं और White Hat SEO का उपयोग कर रहे हैं।

2. यह एक मानवीय दर्शकों पर केंद्रित है। 

White Hat SEO में वे परिवर्तन करना शामिल हैं जो किसी साइट के आगंतुकों के लिए फायदेमंद होते हैं।

और जब आप मानते हैं कि Google की सर्वोच्च प्राथमिकता अपने उपयोगकर्ताओं को सर्वोत्तम संभव परिणाम प्रदान करना है, तो यह समझ में आता है कि यह SEO करने के लिए "सही" तरीके का एक अनिवार्य घटक है।

सौभाग्य से, सबसे प्रभावी SEO रणनीतियों में से कई पहले से ही ऐसे कदम उठाते हैं जो उस अनुभव को बेहतर बनाते हैं जो एक साइट अपने आगंतुकों को प्रदान करती है।

उच्च गुणवत्ता वाली सामग्री को प्रकाशित करने और पृष्ठ लोड समय में सुधार करने जैसी रणनीति उपयोगकर्ताओं को किसी साइट से मिलने वाले मूल्य में सुधार करती है, और जिस आसानी से वे इसे नेविगेट कर सकते हैं उन्हें, Google द्वारा अनुमोदित रणनीतियाँ।


BLACK HAT SEO 


Black Hat SEO क्या है?

ब्लैक हैट SEO अनिवार्य रूप से व्हाइट हैट SEO के बिल्कुल विपरीत है।

यदि कोई रणनीति निम्नलिखित मानदंडों को पूरा करती है, तो इसे Black Hat के रूप में वर्गीकृत किया जा सकता है।


1. यह खोज इंजन दिशानिर्देशों का उल्लंघन करता है। 

ब्लैक हैट रणनीति Google के दिशानिर्देशों का उल्लंघन करती है, और कई मामलों में, इन दिशानिर्देशों में सीधे संदर्भित होते हैं, क्योंकि आपको उन प्रथाओं का उपयोग नहीं करना चाहिए।

2. यह जोड़ तोड़ रणनीति पर निर्भर करता है। 

जबकि White Hat SEO में उपयोगकर्ता के अनुभव को बेहतर बनाने के तरीके शामिल हैं, ब्लैक हैट SEO रैंकिंग में सुधार के लिए Google के एल्गोरिथ्म में हेरफेर करने पर निर्भर करता है।

मजेदार तथ्य

Google की बाजार हिस्सेदारी ~ 92% है। इसीलिए यह आपकी वेबसाइट को Bing, DuckDuckGo, या किसी अन्य वेब खोज इंजन के बजाय Google के लिए अनुकूलित करने का भुगतान करता है।

तो दोस्तों आज आप ने जाना की SEO क्या है, SEO क्यों जरुरी है,BLACK HAT SEO क्या होता है और WHITE HAT SEO क्या होता है। 

आप Video के माध्यम से भी समझ सकते है वीडियो निचे दिया गया है...


                                  

अगर आप सब को इस ब्लॉग से कुछ सिखने को मिला है तो Please इसे दोस्तों और परिजनों में Share करे तथा मेरे Blog ( gyanvigyanfacts ) को भी follow करे। 

Posted By Ainesh Kumar 

इसे भी पढ़े :- 

White Hat SEO kya hai - In Hindi

Black Hat SEO Kya Hai- Full Information In Hindi

Credit, Debit & ATM Card

How to use Aarogya Setu App In Hindi ?

Previous
Next Post »

1 Comments:

Click here for Comments
Ainesh Kumar
admin
June 27, 2020 at 7:27 PM

Hi Everyone, i hope you felt great while reading. Agar Aap Sab Ko Iss Article Se Kuch Sikhne Ko Mila Hai,To Please Iss Article Ko Bahut se Bahut Share Kare.
If You Have Any Query Pls Comment Below,Thank You.

Congrats bro Ainesh Kumar you got PERTAMAX...! hehehehe...
Reply
avatar

मैं आप सबका शुक्रिया अदा करता हूँ की आप ने मेरे आर्टिकल को पढ़ा और इतना सारा प्यार दिया . अब अगर आप को कोई Confusion है, तो आप कमेन्ट में पूछ सकते है .धन्यवाद . Follow:- https://www.gyanvigyanfacts.com/ ConversionConversion EmoticonEmoticon