How To Write Seo Friendly Article On Blogger Website In 2020 - SEO Friendly आर्टिकल कैसे लिखे ? In Hindi

How To Write Seo Friendly Article On Blogger Website  In 2020 - SEO Friendly आर्टिकल कैसे लिखे ? In Hindi

SEO-Friendly-Article-Kaise-Likhe-in-hindi-2020, seo-friendly-article
SEO Friendly Article Kaise Likhe

आप जानते है की आज कर हर एक Blogger चाहता है की उसके आर्टिकल Google के पहले Page पर Rank करे। सब अपनी तरफ से Completely कोशिश भी करते है। लेकिन कुछ वजह से वो आर्टिकल Search Engine के पहले Page पर Show नहीं होते है, उसी कारन को आज हम इस आर्टिकल में बात करेंगे। 

नमस्कार दोस्तों, मैं Ainesh आप सब का मेरे इस Blog पर स्वागत करता हूँ। आज के इस आर्टिकल में हम जानने वाले है की कैसे हम अपने आर्टिकल को SEO Friendly बना सकते है। कैसे हम अपने आर्टिकल को SEO फ्रेंडली बना कर उस पर ट्रैफिक ला सकते है। लोगो के पास SEO (Search Engine Optimization ) के Knowledge होने के बावजूद भी उनके Page Ranking List में ऊपर नहीं आते है। कारन तो बहुत है, उसको हम आगे विस्तार से जानेंगे तो चलिए शुरू करे। 

दोस्तों हम आगे बढे उससे पहले हम जान लेते है की SEO Friendly आर्टिकल क्या होते है ? ( What Is SEO Friendly Article )

Google के एक अपना Algorithm होते है, आप जानते होंगे और अगर नहीं भी जानते है तो कोई बात नहीं आज हम इसमें जानेंगे। आप जो भी आर्टिकल लिखते है वो Google के नियम से Relate होता हो तो Google उसको अपने Search Engine में पहले Page पर Index करता है या दिखाता है। उस आर्टिकल को इसीलिए गूगल अपने Page पर Index करता है क्योकि वो आर्टिकल SEO फ्रेंडली होते है। In Other Hand, आप जो भी आर्टिकल लिखते है वो आपके ब्लॉग पर आने वाले Visitors को भी समझ में आना चाहिए, और जिस आर्टिकल में Meta Tag,
Description,Title Tag, Image Optimized, And Content अच्छे से लिखा होता है वो ही SEO Friendly Article है।  

दोस्तों Short में हम तो जान गए की SEO Friendly Article क्या होते है, कैसे गूगल में रैंक करते है लेकिन आप जानते है की SEO Friendly Article लिखने पर Blogger इतना जोर क्यों देते है ?

देखिये आप जानते है की कोई भी व्यक्ति अपने घर चलाने के लिए ही काम करता है या Famous होने के लिए, लेकिन आप सोचो की आप 1 साल मेहनत करते है 6-6 घंटे लेकिन आपको उस जगह से पैसे नहीं मिलते है,तो आप सोच सकते है की किस तरह लोग Demotivate हो जाते है। चुकी कोई ब्लॉगर जो ब्लॉग लिखता है। उससे उम्मीद होती है की लोग उनके वेबसाइट पर आएंगे और उनके द्वारा दिए गए Information को पढ़ेंगे। लेकिन, कुछ कारणों से Visitors आपके वेबसाइट पर नहीं आते है जिस कारन आपकी Income भी नहीं होती है। इसीलिए लोगों को पसंद आये ऐसा आर्टिकल लिखने पर जोर देते है जिससे SEO Friendly Article कहते है। वैसे SEO का Full Form है Search Engine Optimization.

अब हम जानते है की SEO फ्रेंडली आर्टिकल को Follow करने वाले कुछ Factors और Terms को जो मैंने निचे दिया है। 

यह भी पढ़े:-How To Increase Your Blog Traffic In 2020- Detailed Analysis-अपने ब्लॉग पर ट्रैफिक कैसे लाये


SEO फ्रेंडली आर्टिकल कैसे लिखे ? ( How To Write SEO Friendly Article In 2020 ) In Hindi

आपके आर्टिकल SEO Friendly होते है जब आपने निचे दिए गए सभी काम को Perfectly करते है। आपको एक बात और ध्यान में रखना चाहिए की SEO फ्रेंडली आर्टिकल वो होते है जो Long Content हो यानी 2000 +Words के, User Understanding हो यानी जिसे User को पढ़ने में आसानी हो। तो चलिए जानते है वो 10 कारन जो SEO Friendly आर्टिकल के लिए जरुरी होते है। 

  1. Article Title (Heading, SubHeading )
  2. Article Content ( Quality Content लिखे )
  3. Article Length ( Long Article लिखे )
  4. Keywords (Article Keywords Research करे )
  5. Optimize Image (Alt Tag, Title Tag )
  6. Blog Description (Optimize Meta Description)
  7. Paragraph Short
  8. Permalink (Article URL)
  9. Internal Linking (Old Post Linking )
  10. External Linking ( Other Platform )
दोस्तों ये सभी Terms बहुत जरुरी है, एक SEO Friendly आर्टिकल को लिखने के लिए, अब हम ऊपर दिए गए सभी Points को Detail में जानते है। 

Article Title (Heading, SubHeading )

याद रहे की जब आप एक टॉपिक(आर्टिकल ) लिखने के लिए Script लिखते है,तो आप अपने टॉपिक का अच्छा सा Keywords Type Heading और SubHeading लिखेंगे ताकि User को कोई परेशानी का सामना ना करना पड़े जब वे पढ़ रहे हो। आप नहीं जानते है लेकिन आपके Heading से पता चल जाता है Visitors को की इस आर्टिकल में क्या बात होगी या किस बारे में है। इससे आपको यह फायदा होगा की एक बार Visitors आयेंगे तो वो पुरे आर्टिकल को पढ़ कर ही जायेंगे,इसीलिए आपके आर्टिकल के टॉपिक में ये सब होना चाहिए जो मैं निचे बता रहा हूँ। 

1. आप अपने Heading में Main Longtail Keyword को पहले ही रखे, जैसे मेरे आर्टिकल में है <<How-To-Write-SEO-Friendly Article>>.

2. आप अपने आर्टिकल के Heading में Longtail Keywords का इस्तेमाल करे। 

3. आप Title को Eye Cathy बनाये ताकि Visitor Title देख कर आ जाये। 

4. आप आकर्षण Title लिख सकते है। 

5. Bounce Rate घटाने के लिए आपको Simple Title रखना चाहिए ताकि Visitors एक बारे आये तो वापिस जल्दी ना जा सके। 

अब हम आगे के Term को देखते है और जानते है उसको हम कैसे ठीक कर सकते है। 

Article Content ( Quality Content लिखे )

Google के Algorithm के अनुसार अगर आपका Content अच्छा है यानी की आप उसमे सभी प्रकार के Heading और SubHeading के साथ-साथ लोगों को अच्छे से समझने योग्य आर्टिकल लिखते है तो भी आपके आर्टिकल Search Engine में Rank करेगा। आप जब भी आर्टिकल लिखे तो कोशिश करे की उसमे जो भी शब्द इस्तेमाल किया जा रहा है उससे लोगों को कोई परेशानी न हो। 

क्योकि अगर आप Quality Content के चक्कर में कुछ ऐसे Words लिख देते है की लोग Confuse हो जाते है। और तभी आपके आर्टिकल पर से वे Move On कर जाते है। 

आप हमेशा आर्टिकल लिखे उससे पहले अपने टॉपिक से Related Search करे और फिर उस से अपने आर्टिकल के लिए Keyword इस्तेमाल करे क्योकि आप जो आर्टिकल लिखते है वो लोगों को पसंद आयेंगे तभी गूगल को भी पसंद आयेंगे। 

Article Length ( Long Article लिखे )

मैंने आपको ऊपर बताया की आप को अपने आर्टिकल में इस्तेमाल किये जाने वाले टॉपिक से Related ही Keywords और Cathy Points इस्तेमाल करना चाहिए,क्योकि इससे Visitors आपके आर्टिकल को Read करते समय Bore नहीं होते है। 

आपको मैं बता दूँ की ज्यादातर आर्टिकल Google के पहले Page में  Rank करता है उसमे करीबन 1500+ शब्द इस्तेमाल किये जाते है। आप जानते है की एक आर्टिकल लिखने में हमे खूब Research करना पड़ता है फिर उसको हम अपने Style में समझते है और बाद में हम लोगों को पढ़ने में दिक्कत ना हो और कुछ सिख सके इस तरह के आर्टिकल लिखते है। आप जब आर्टिकल लिखे तो कोशिश करे की आर्टिकल कम से कम 1500 से 2000 के हो। 

Note :- आप को एक बात की चेतावनी दे दूँ की आप ज्यादा बड़ा करने के चक्कर में आर्टिकल को गन्दा ना करे या बेकार की बाते ना लिखे आप नहीं जानते है लेकिन इससे आपको कुछ फायदा नहीं होने वाला है और आपके Followers भी चले जायेंगे जो Visitors आयेंगे वो तुरंत ही चले जायेंगे जिस कारन आपके वेबसाइट पर Bounce Rate बढ़ जायेंगे जिसके फलस्वरूप आपका वेबसाइट कभी भी Rank नहीं कर सकता है। 


Keywords (Article Keywords Research करे )

मेरे हिसाब से देखे तो एक टॉपिक चुनने से पहले ही आपको पहला SEO Factor यानी "Keyword" को Search करना चाहिए। मान ले की आप एक आर्टिकल लिखते है लेकिन आप उस आर्टिकल में कोई Suitable Keyword ही इस्तेमाल नहीं करते है। यकीन मानिये आपके वेबसाइट ऐसे माना जाएगा जैसे अँधेरे में तीर चलना मतलब इसका कोई Value ही नहीं है Google के Search Engine में। 

आपको पहले अपने टॉपिक से Related Keywords ढूंढने है, आप Free के ऑनलाइन Keywords के Tools को इस्तेमाल कर सकते है। मैं उसका Link निचे दे रहा हूँ। उसके अलावा भी आप Google पर Search कर सकते है। 
  1. Keyword Tool (Famous है )
  2. LSIGraph 
तो आप इस Tools के इस्तेमाल से अपने टॉपिक को Advance बना सकते है। आप CPC जान सकते है किसी भी Keyword के, आप को हमेशा उस टॉपिक से Related ही काम करना चाहिए या उसी टॉपिक पर काम करना चाहिए जिसका Searching Rate ज्यादा हो और Competition कम। 

Optimize Image (Alt Tag, Title Tag )

आप अपने आर्टिकल को SEO Friendly बना सकते है, Image को Optimize करके यानी आप अपने आर्टिकल के Image में Alternative Tag डालते है और Title Tag आप जानते है की इससे भी आपके आर्टिकल Rank हो सकते है। आप अपने आर्टिकल के लिए Heavy Image इस्तेमाल ना करे। अब तो Google के नए नियम के अनुसार आप JPEG 2000,JPEG XR और WEB-P का इस्तेमाल करेंगे ये सभी Format PNG और JPEG से अच्छे है। आप अपने इमेज को दिए गए Links से Convert कर सकते है WebP में और Compressed भी कर सकते है वो भी बिलकुल मुफ्त। 
  1. JPG To WebP Converter 
  2. WebP Converter
  3. Compress Png and Jpeg
दोस्तों आप अपने आर्टिकल में Heavy और जो Good Format में नहीं होते है इमेज उसे इस्तेमाल नहीं कर सकते क्योकि ये SEO Friendly नहीं होते है। 

Blog Description (Optimize Meta Description)

आप को जान कर हैरानी होगी की Meta Description से भी आपके आर्टिकल गूगल के Searching Page पर आ सकते है। बस आपको Blog Description या Meta Description को अच्छे से इस्तेमाल करना है।  मैं आपको कुछ Points दे रहा हूँ आप याद रख सकते है। 

1. पहली बात तो यह है की आपको Meta Description 140 से 150 के बिच में रखना है। 

2. आप Meta Description या Blog Description में पहले Focus Keyword जो आप अपने Post Tag,Title Tag और Image Tag में इस्तेमाल किया है उसे ही Use करे। बाद में, आप दूसरे Keyword को रख सकते है। 

3. आप अपने  Blog Description या Meta Description को इस तरह से इस्तेमाल करे की Visitors बस आपके आर्टिकल पे Click कर दे। 

Paragraph Short

आप जब मेरे इस आर्टिकल को पढ़ते है तो आपने गौर किया होगा की मैंने कुछ-कुछ Line छोड़-छोड़ के आर्टिकल लिखा है। जी हाँ,दोस्तों आपको अपने आर्टिकल को इस तरह से राम कथा नहीं बनाना है की बस एक ही Heading में पुरे Article ही Finish. 

आपको अपने आर्टिकल को Paragraph में लिखना होगा, मतलब 10 से 12 Lines के बाद रिक्त स्थान आपको छोड़ना है। 

आप जानते है की किसी को भी बस पढ़ते जाना कितना Boring लग सकता है। इसीलिए आपको अपने आर्टिकल को पैराग्राफ में लिखना जरुरी है और आप कोशिश करे की पहले पैराग्राफ में आप वो Main-Main Keywords इस्तेमाल करेंगे जिसके बारे में आप आगे के आर्टिकल में बताएंगे। 

आप छोटे-छोटे पर Cathy आर्टिकल के पैराग्राफ लिखंगे ताकि Reader  को पढ़ने में आसानी हो, और आप नहीं जानते है की Google  की भी पहली प्राथिमिकता यही है की आर्टिकल Short में हो Paragraph में हो। 

Permalink (Article URL)

अभी मैं इस आर्टिकल को लिख रहा हूँ साथ ही मैंने इस आर्टिकल में Custom Permalink ( यानी एक particular आर्टिकल का Link ) को भी Edit किया हूँ। जो आपको कुछ इस रूप में देखने को मिलेगा। 

⇛ https://www.gyanvigyanfacts.com/2020/08/how-to-write-seo-friendly-article-in-2020.

अगर आप निचे दिए गए Permalink इस्तेमाल करते है तो वो SEO के हिसाब से गलत है।
 
https://www.gyanvigyanfacts.com/2020/08/how-to-write-seo-friendly-article-in-2020-what -is-seo-friendly-article-how-to-write-seo-friendly-article.

दोस्तों अगर आप एक ही Link में कई प्रकार के प्रश्न करते हुए लिंक बनाते है तो भी आपको सतर्क हो जाना चाहिए। 

Internal Linking (Old Post Linking )

आप अगर Linking को जानते है तो Linking दो प्रकार के होते है Blogging में पहला Internal Linking जिसमे आप अपने ही वेबसाइट के पुराने आर्टिकल को नए लिख रहे आर्टिकल में लिंक करते है मैंने इसका Example निचे दिया है की "यह भी पढ़े" आप जानते है की इस प्रकार के Linking से आपको फायदा होता है Linking Juice बनते है जो आपके वेबसाइट के Ranking के लिए सही होते है। 


दूसरा जो प्रकार है वो है External Linking के चुकी इसके बारे में हम आगे पढ़ेंगे बस इसमें यही जान ले की इस Linking के द्वारा आप अपने वेबसाइट को किसी और Platform से जोड़ते है। 

Internal Linking के फायदे क्या है ?
  • मान लीजिये की कोई Visitor आपके वेबसाइट पर आता है और वो एक आर्टिकल पढता है और अगर आप ने Internal Linking कर रखा होगा तो वो Visitor आपके उस Link से दूसरा आर्टिकल भी पढ़ सकते है। 
  • अब वो Visitor और आगे आने वाले Visitors इसी Link के माध्यम को इस्तेमाल करते है तो आपके वेबसाइट का Bounce Rate कम होते है। और आपके वेबसाइट भी Ranking के राह पर चल देते है। 
  • On Page Seo यानी जो आप वेबसाइट के अंदर करते है उसे ही On Page Seo कहते है, अब Internal Linking काफी मददगार है On Page Seo के लिए। चुकी इससे आपके पुराने आर्टिकल भी Crawl किये जाते है, जो फायदे की बात है। 
अब हम बात करते है एक लास्ट Factor  के बारे में और यकीन मानिये वो भी काफी माईने रखते है Page के SEO  के लिए। 

External Linking ( Other Platform )

इस Linking प्रक्रिया में आप दोनों प्रकार के Backlinks पाते है, NoFollow Backlinks aur DoFollow Backlinks. SEO के नजरिये से देखे तो ये दोनों बहुत ही जरूरत है किसी भी वेबसाइट को Famous करने के लिए। 

क्या होते है External Linking ? इस Linking में आप अपने वेबसाइट के Link किसी और Platform पर इस्तेमाल करते है और लोग उस Link के सहायता से आपके वेबसाइट पर आते है। 

अब मान लीजिये की आपने एक अपने वेबसाइट को Promote करने के लिए Pinterest Account बनाते है और आप वहाँ पर अपने वेबसाइट के लिंक दे देते है। अब अगर कोई व्यक्ति आपके Account को देखता है और आपके वेबसाइट के Link पर Click करता है तो वो Redirect हो जाएगा आपके वेबसाइट पर और इससे आपको फायदा होगा साथ ही ट्रैफिक भी होगी और Income आने का जरिया भी बनेंगे। 

तो दोस्तों आज के लिए बस इतना ही मैं आशा करता हूँ की आज के टॉपिक How To Write Seo Friendly Article On Blogger Website In 2020 समझ में आ गए होंगे। 
और आप मेरे द्वारा दिए गए Steps को भी Follow करेंगे अपने वेबसाइट में SEO Friendly आर्टिकल लिखने के लिए। 

Posted By Ainesh Kumar

यह भी जाने:

seo- off page seo kaise kare-off page seo tutorial in hindi


Previous
Next Post »

2 Comments

Click here for Comments
Aineshkumar
admin
October 14, 2020 at 7:26 PM

Thank You All For Responding.

Reply
avatar

मैं आप सबका शुक्रिया अदा करता हूँ की आप ने मेरे आर्टिकल को पढ़ा और इतना सारा प्यार दिया . अब अगर आप को कोई Confusion है, तो आप कमेन्ट में पूछ सकते है .धन्यवाद . ConversionConversion EmoticonEmoticon