क्या मकसद होते है CBI , ED, NCB के वे कैसे करते हैं अपना काम और अलग-अलग एजेंसियों की प्रक्रिया में क्या होता है अंतर? In Hindi

क्या मकसद होते है CBI , ED, NCB के व कैसे करती हैं अपना काम और अलग-अलग एजेंसियों की प्रक्रिया में क्या होता है अंतर? In Hindi


ncb,ncb-cbi-ed-kya-hai-hindi
ncb-cbi-ed-mein-antar


नमस्कार दोस्तों, आज के इस आर्टिकल में हम जानने वाले है ED,CBI और NCB में क्या अंतर होते ?साथ ही, हम जानेंगे की  CBI,ED और NCB का फुलफॉर्म क्या होता है। 2020 का साल पूरे दुनिया के लिए अशुभ रहा है कई सारे स्तर पर सरकार को भी हानि उठाना पड़ रहा है और इसके अलावा Bollywood के लिए भी अशुभ रहा है यह साल, आप जानते है की आज जिस तरह से भारत में कोरोना का स्तर बढ़ रहा है उसके चलते कई सारे लोग अपनी जान गवा रहे है और इसी बिच कई सारे Celebs जैसे :-ऋषि कपूर,इरफ़ान खान,वाजिद खान और सर सुशांत सिंह राजपूत भी स्वर्ग सीधार चुके है, लेकिन दोस्तों आप जानते है की SSR (सुशांत सिंह राजपूत ) जो Fit And Fine थे उनकी मौत एक साजिश है या खुदखुशी आज भी अनसुलझे है लेकिन जल्द ही इसको भी हमारी Powerful एजेंसी द्वारा Solve कर दिया जाएगा। 

आज SSR के Case में 3 मुख्य एजेंसीज Actively अपना काम कर रही है जिसमे काम कर रही है NCB,सीबीआई और ED. तो आज हम इसी बारे में और विस्तार से जानेंगे लेकिन हम इसमें SSR सर के बारे में नहीं बल्कि CBI,ED & NCB को जानेंगे और देखेंगे की कैसे सीबीआई ऑफ़िसर,NCB Officer और ED Officer अपना काम को अंजाम देती है। Hum Iss Article Mein Ek-Ek Karke Tino Agensies Ke Baare Mein Baat karenge.

तो Without Further Delay Let's Get Stared Our Journey...

CBI क्या है और कैसे काम करती है???  What Is Full Form Of CBI And What Is Work Of CBI In Hindi


CBI का फुलफॉर्म Central Bureau Of Investigation व केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो होता है दोस्तों सबसे पहले हम बात करते है कुछ Main Points के बारे में तो सीबीआई का गठन 1963 में किया गया था। जिसके पहले प्रमुख अध्यक्ष थे D P Kohli पर अभी रंजीत सिन्हा जी है। सीबीआई के HeadQuarter नई दिल्ली में स्थित है। आप को बता दूँ की सीबीआई के न्याय क्षेत्र या Jurisdiction पुरे भारत में है। मतलब सीबीआई ऑफ़िसर भारत के किसी भी जगह जा कर Raid मार सकती है। National और International दोनों स्तर पर जब गंभीर मामले हो,क्राइम हो या घोटाला हो तो उस मामले  जांच सीबीआई करती है। 


CBI किसके अधीन काम करती है???

CBI एक बहुत बड़ा एजेंसी माना जाता है, जिसमे उच्च स्तर के Officers कार्यरत रहते है। सीबीआई शीर्ष एजेंसी कार्मिक लोक शिकायत और पेंशन मंत्रालय के तहत कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग के अधीन काम करती है। आप अगर प्रत्येक्ष रूप से देखे तो सीबीआई Central Government के Under में कार्य करती है जिस कारण ज्यादातर लोगों का यह मानना होता है की CBI को जब Central Government सरकार के किसी नेता या दल पर कार्य करते है तो प्रत्यक्षरूप से नहीं करते है। मतलब निष्पक्ष Judgement नहीं करते है। लेकिन, मैं आप को बता दूँ की ऐसा कुछ भी नहीं होता है सीबीआई निष्पक्ष काम करती है। 

CBI Officers को कौन-कौन Order दे सकते है ???

सीबीआई को भारत सरकार व केंद्र सरकार  द्वारा या राज्य सरकार द्वारा जांच करने की अनुमति दी जा सकती है। इसके अतरिक्त,राज्य के High Court  और केंद्र स्तर पर Supreme Court सीबीआई जांच की अनुमति दे सकते है बिना सरकार के Permission लिए। 

CBI एजेंसी के प्रमुख कार्य क्या है ??? 

मैंने आपको ऊपर में बता दिया है की सीबीआई किस के अधीन कार्य करती है, क्या काम करती है लेकिन अब हम इसे विस्तार से जानते है और देखते है की CBI किस-किस क्षेत्र में Active होते है। 

1. Special Crime ( मुख्य घटना ) :- आप सीबीआई को National और International स्तर के मुख्य और गंभीर क्राइम  जैसे की आत्महत्या में, आतंक में, बम विस्फोटक में और Underworld माफियाओं के जांच करते देख सकते है। 

2. Anti-Corruption Crime ( भ्रष्टाचार विरोधी ) :- सीबीआई सभी प्रकार के केंद्र और राज्य स्तर पर के सभी सार्वजनिक उपकरण,सभी विभागों और धोखाधड़ी को जाँच कर सकती है। 

3. GST System & Economical Crime ( आर्थिक अपराध ) :- आप सीबीआई को केंद्रीय और राज्य सरकार के विभागों,कर्मचारियों और National स्तर के पैसे से सम्बन्धित अपराधों को अंजाम देते हुए देख सकते है।  
तो दोस्तों ये सब थे सीबीआई के बारे में जानकारी जो मैं बताना चाहता था मुझे लगता है की वो आप समझ गए है, अब हम आगे बढ़ते है और जानते है ED ( Enforcement Directorate ) क्या है और कैसे काम करती है और अंत में हम Conclusion में सबका निचोड़ देखेंगे।
 

ED क्या है और कैसे काम करती है???  What Is Full Form Of ED  And What Is Work Of ED In Hindi

ED का फुलफॉर्म Enforcement Directorate व प्रवर्तन निदेशालय होता है इसे Directorate of Enforcement या Directorate General of Economic Enforcement भी कहा जाता है।आज भारत में जिस तरह से SSR की मौत से ED नाम मुख्यरूप से प्रचलित हो रहे है, अखबारों और TV News पर लोगों को जानना है ED क्या है और कैसे काम करती है, तो हम इसी बारे में अब विस्तार से जानते है। ED की स्थापना 1 मई 1956 को की गयी थी, इसका मुख्यालय नयी दिल्ली में है। Present में भारत के Finance Minister निर्मला सीतारमण जी है। ED एक System है जिसमे IAS,IPS और IRS को कार्यभार दिया जा सकता है। हाल के समय में, संजय कुमार मिश्रा ( IRS ) ED के प्रमुख यानी Chief है। 

ED किसके अधीन काम करती है???

Enforcement Directorate के एजेन्सी भारत सरकार के वित्त मंत्रालय के राजस्व विभाग के अधीन एक विशेष वित्तीय जांच एजेन्सी के रूप में कार्यरत होते है। इस एजेंसी को भारत का ख़ुफ़िया एजेंसी माना जाता  है।ये एजेंसी मुख्यतौर पर भारत व विदेश के पैसे से सम्बंधित मामले की जांच करती है।Money Laundering या किसी व्यक्ति के पास आय से ज्यादा सम्पति हो तो उसकी भी जाँच ED Officers करते है। 

ED के कार्य ( Work ) और अधिकार ( Right ) 

ED 1999 (  FEMA= Foreign Exchange Management Act ) विदेशी मुद्रा प्रबंधन अधिनियम  और 2002 ( PMLA = Prevention of Money Laundering Act ) धनशोधन निवारण अधिनियम के तहत कार्य करती है। 1973 के अंतर्गत फेरा के नाम से जाना जाने वाली अधिनियम  ED विदेशी मुद्रा विनियमन अधिनियम कार्य करती थी लेकिन आर्थिक उदारीकरण के कारन 1 जून 2000 से एक FEMA नाम के एजेंसी अस्तित्व में आयी। 

अगर कोई भी व्यक्ति ऊपर दिए FEMA ( 1999 ) को उल्लंघन करता है तो उस पर ED की करवाई हो सकती है। 

तो दोस्तों ये थे ED के बारे में कुछ मुख्य बाते मैंने आपको ज्यादा नहीं बताया है लेकिन आप ED के बारे में और विस्तार से जानना चाहते है तो आप जान सकते है।अब हम बात करते है NCB (  Narcotics Control Bureau ) के बारे में। 


NCB क्या है और कैसे काम करती है???  What Is Full Form Of NCB  And What Is Work Or Right Of NCB In Hindi

NCB का फुलफॉर्म Narcotics Control Bureau होता है। NCB की स्थापना 17 मार्च, 1986 में हुई और इसका मुख्यालय नई दिल्ली में है। दोस्तोंवर्तमान में NCB के डायरेक्टर जनरल है राकेश अस्थाना ( IPS ) . दोस्तों इस दुनिया में कई प्रकार के नारकोटिक्स ( यानी नशीली पदार्थ ) इस्तेमाल करने वाले व्यक्ति है। लोग अलग-अलग तरह की नशीली पदार्थ लेते है जैसे की चरस,गाँजा,अफीम ड्रग्स व Alcohols इत्यादि। कुछ Artificial नशीले पदार्थ होते है जैसे की सोडियम और इथेनॉल होते है जिसे इंजेक्शन के माध्यम से लिया जाता है। 

NCB क्या है ? दोस्तों NCB भारत सरकार के द्वारा ऊपर दिये गए नशीली पदार्थों के सेवन करने वाले के लिए व ड्रग तस्तरी को रोकने के लिए एक ख़ुफ़िया एजेंसी है।NCB में डायरेक्टर जनरल IPS ( Indian Police Service )  और IRS ( Indian Revenue ) के अधिकारी ही बन सकते है। 

NCB कैसे काम करती है? दोस्तों, NCB संगठित और असंगठित दोनों तरह से कार्यरत होते है मतलब NCB बॉर्डर,देश के अंदर या इंटरनेशनल Level पर जांच करते वक्त ये पाती है की यहाँ पर Illegal Narcotics का इस्तेमाल किया गया है तो वो CBI,CEIB ( Central Economic Intelligence Bureau ) और राज्य व केंद्र स्तर के जैसी ख़ुफ़िया एजेंसी से मदद लेते हुए कार्य कर सकती है। 

NCB किसके अधीन काम करती है???

Narcotic Control Bureau गृह मंत्रालय या Ministry Of Home के तहत कार्य करती है। जब भी कोई Drugs तस्तरी या चरस-गाँजा की बात आये तो उस पर NCB काम करती है दोस्तों अभी अमित शाह जी है गृह मंत्री।  

NCB  एजेंसी के प्रमुख कार्य क्या है ??? 

NCB के सबसे मुख्य और प्रमुख कार्य है All India Level पर नारकोटिक्स की जाँच करना और सभी प्रकार के नशीले पदार्थों के इस्तेमाल पर रोक लगाना। 


Note: 
1. NCB का MOTTO है __Intelligence, Enforcement एंड Coordination 
2. Act 1985 , Narcotic Drugs And Psychotropic Substance  ( NDPS ) के तहत 
NDPS कानून के तहत किसी भी प्रकार के नशीली पदार्थों का उपयोग करना, खेती करना,बेचना या उत्पाद करना गैर-क़ानूनी माना गया है। अगर कोई व्यक्ति इस तरह के काम करते हुए पकड़ा जाए तो उस पर Narcotic Test किया जाता है। 

दोस्तों ऊपर हमने केवल अंतर् को Analyse है उसके Similarities को नहीं तो अब हम ED,CBI और NCB में Similarities देखते है।
 

ED,CBI और NCB का Raid Method क्या है ?

दोस्तों मैं आपको बता दूँ की भले ही ये तीनों एजेंसी अलग-अलग Field के है लेकिन इसके Raid व छापा मारने का तरीका लगभग समान है वो है Survey (संदिघ्ध चीज़ो को ढूँढना या पता लगाना)  Search ( यानी संदिघ्ध चीज़ो के बारे में Details निकालना) फिर Raid यानी छापा मारना। Raid मारने से पहले Supreme Court या High Court और Supreme अधिकारी द्वारा तलाशी वारेंट जारी कराया जाता है, फिर छापा मारा जाता है।
 

So , आज के लिए बस इतना ही आप समझ गए होंगे की ""क्या मकसद होते है CBI , ED, NCB के वे कैसे करते हैं अपना काम और अलग-अलग एजेंसियों की प्रक्रिया में क्या होता है अंतर? In Hindi ""

मतलब अब आप जान चुके है तीनों एजेंसी में क्या अंतर है और क्या Similarities है , पर फिर भी आप को कुछ पूछना है तो आप मुझे Social Media या More Beneficial है की आप Comment Box में ही पूछे। 

जय हिन्द,जय भारत !

यह भी जाने :

स्पेस में एस्ट्रोनॉट्स कैसे जाते हैं और वापिस पृथ्वी पर कैसे आते हैं? LETS KNOW- HOW DO ASTRONAUTS GO TO SPACE AND RETURN TO EARTH?
Previous
Next Post »

मैं आप सबका शुक्रिया अदा करता हूँ की आप ने मेरे आर्टिकल को पढ़ा और इतना सारा प्यार दिया . अब अगर आप को कोई Confusion है, तो आप कमेन्ट में पूछ सकते है .धन्यवाद . ConversionConversion EmoticonEmoticon