शेयर मार्केट क्या है |share market in hindi| डीमैट अकाउंट क्या होता है? शेयर मार्केट के लाभ क्या है ?नुकसान क्या क्या है ?

Contents
  1. शेयर मार्केट क्या है |share market in hindi| डीमैट अकाउंट क्या होता है? शेयर मार्केट के लाभ क्या है ?नुकसान क्या क्या है ?
  2. शेयर मार्केट क्या है? ( Share market in Hindi )
  3. शेयर मार्केट कैसे काम करता है?
  4. Share Market में पैसे कैसे लगाए ?
  5. डीमैट अकाउंट क्या होता है?
  6. शेयर मार्केट में कम्पनियाँ शेयर कैसे बेचती है ?
  7. शेयर बेचने और खरीदने का क्या अर्थ है?
  8. क्या शेयर मार्केट में पैसे कमाना आसान है?
  9. शेयर मार्किट में पैसे लगाने के क्या फायदे होते हैं?
  10. जानते हैं आखिर शेयर मार्केट में पैसा कैसे डूबता है? शेयर बाजार में ज्यादातर लोगों का पैसा क्यों डूबता हैं?
  11. शेयर बाजार में नुकसान होने के सबसे बड़े और महत्वूर्ण कारण क्या है?
  12. क्या हमे शेयर मार्केट में इन्वेस्ट करना चाहिए ?
  13. शेयर मार्केट में सफलता का मूल मंत्र क्या है?
  14. Disclaimer
  15. Conclusion

शेयर मार्केट क्या है |share market in hindi| डीमैट अकाउंट क्या होता है? शेयर मार्केट के लाभ क्या है ?नुकसान क्या क्या है ?

share-market-kya-hai,share-market-in-hindi
शेयर मार्किट क्या होते है ?

नमस्कार दोस्तों, आज हम और आप एक बहुत ही Common टॉपिक पर बात करने वाले और आप तो जानते है की आज हम जिस बारे में बात करेंगे उसे जानने के बाद हम उसमे महारत हासिल क सकने योग्य हो सकते है। चुकी, मैं तो आप को एक Basic Knowledge दे सकता हूँ Practically आप को Share Market को खंघानला होगा । Share Market आप ने जरूर ही सुना होगा और अगर नहीं सुना है तो आपको आगे पता चल जाएगा।जैसा की मैंने बताया है  Share Market बहुत ही Common  पर बहुत ही अद्भुत जरिया है अपने सपने पुरे करने के लिए जो इसे जान लिया हो हीरो और जो नहीं जाना वो अनाडी। 

दोस्तों, आज के जमाने में कौन ज्यादा पैसा मिनटों में नहीं कमाना चाहता है, कुछ लोग अपने सपनों को पूरा करने के लिए बिज़नेस करते है कोई किसी Compony के Under काम करता है तो कोई एक अपना छोटा सा दूकान खोल लेता है पैसे कमाने के लिए। दोस्तों आज जिसके पास पैसा है उसी के पास दौलत है,शौरत है,रिश्तेदार है और लोग आपकी इज्जत भी करते है अगर आपके पास पैसे है तो आप अपने और परिवार की जरूरतों को पूरा कर सकते है। 

आज के इस आर्टिकल में हम जान्ने वाले है की पैसे को दांव पर लगा कर कैसे बहुत से लोग पैसा से पैसा बनाते है। वे कहा पर अपना पैसा Invest करते है। 

जी हाँ दोस्तों, आप Share Market में पैसा लगा सकते है जिसे हम Share Bazar भी कहते है। Share Market in Hindi व Share Bazar In Hindi के बारे में आप आज इस आर्टिकल में Basic ज्ञान प्राप्त करेंगे तो बस आप मेरे साथ अंत तक बने रहे। 

तो चलिए आज के सफर हम अब शुरू करते है और जानते है सबसे पहले share market kya hai in hindi. 


 

शेयर मार्केट क्या है? ( Share market in Hindi )

अब एक साधारण सा सवाल की आखिर शेयर मार्किट क्या है तो दोस्तों अगर मैं आपको आसान शब्द में बताऊँ तो Share Market एक ऐसा मार्किट है जहाँ बहुत से Companies के Shares ख़रीदे व बेचे जाते है। देखिये अब अगर भविष्य में कंपनी को फायेदा होगा तो आपको भी दोगुना फायेदा होगा और अगर हारे तो पूरे पैसे आपके डूब जायेंगे तो यहाँ पर जितना पैसा कमाना आसन है उतना ही पैसा Loss होना भी आसान है इसीलिए आपको Experience और अनुभवी लोगों के साथ हमेशा रहना चाहिए और भविष्य में कोन सी कंपनी आगे टिकी रह सकती है आपको अंदाजा अच्छे से लगाना होता है। 

भारत मे 2 शेयर बाज़ार है

1. मुम्बई शेयर बाज़ार ( Sensex) {BSE (Bombay Stock Exchange ) }

2. नैश्नल स्टॉक एक्श्चेंज दिल्ली ( Nifty) { NSE (National Stock Exchange) }

शेयर की खरीदी-बिक्री का स्थान शेयर बाजार के नाम से जाना जाता है। भारत में शेयर बाजार का संचालन मुख्यतया दो बड़े स्टॉक एक्सचेंजों के माध्यम से होता है। एक बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज और दूसरा नेशनल स्टॉक एक्सचेंज।कंपनियां अतिरिक्त पूंजी जुटाने के लिए इन स्टॉक एक्सचेंजों में रजिस्टर्ड होती हैं और आईपीओ (इनिशियल पब्लिक आफरिंग) के माध्यम से अपने शेयर जारी करती हैं। देश के आम नागरिक या निवेशक कंपनियों के शेयरों को खरीद कर बाजार से लाभ लेने का प्रयास करते हैं।

SEBI व Security and Exchange Board of India की निगरानी के अधीन शेयर बाजार के संपूर्ण कामकाज होते हैं। सेबी निवेशकों के हितों को ध्यान में रखते हुए स्टॉक एक्सचेंज, शेयर ब्रोकर और बाजार से जुड़े हुए अन्य संस्थाओं पर निगरानी रखती है और शेयर बाजार के पारदर्शी संचालन के लिए प्रयास करती है।

शेयर को stock भी कह्ते है शेयर का सीधा अर्थ है हिस्सा यानि किसी कंपनी मे लगी हुई पुंजी क हिस्सा। किसी भी कंपनी को चलाने, उसे खड़ा करने के लिये उसमें बहुत निवेश/ पैसे कि जरूरत होती है एक आदमी निवेश नही कर सकता है इसलिये कंपनी का owner यानि मालिक अपनी कंपनी के शेयर मार्केट मे बेचता है।जिससे उसे कंपनी को चलाने मे पैसे मिल जाते है और जो भी कंपनी का शेयर खरीदता है उसे कंपनी को जो भी प्रॉफिट होता है उतना हिस्सा उसे मिल जाता है। इससे दोनों को पक्षों को इसका फायेदा होता है एक को पैसो की मदद हो जाती है और दूसरा invest करके उससे profit कमा लेता है।

शेयर यानि एक कंपनी में आप जितने पैसे इन्वेस्ट करते हो उसकी हिस्सेदारी को शेयर कहते हे। आप बिना बाजार के भी शेयर ले -बैच कर सकते हो। शेयर मार्किट के दो प्रकार है।

प्रायमरी शेयर मार्किट

सेकंडरी शेयर मार्किट


In Short: किसी भी कंपनी में ली गई partnership ही उस कंपनी का शेयर कहलाता है। शेयर्स की बदौलत चलने वाले business को शेयर मार्केट कहा जाता है।


शेयर मार्केट कैसे काम करता है?

अब हम जानते है की Share Market काम कैसे करता है ?? shares में लगातार उतार-चढ़ाव आते रहते हैं। यह उतार चढ़ाव company के कीमत के बदलाव की वजह से होता है। शेयर मार्केट में कंपनी अपने shares पब्लिक के लिए खुले तौर पर रख देती है। Company के इन शेयर्स की कीमत उस स्टॉक में कंपनी की स्थिति के हिसाब से मापी जाती है। यानि यदि कंपनी की market capital ज्यादा है तो उस कंपनी के shares ज्यादा दाम पर बेचे जाएंगे। शेयर्स की कीमत से वह company अपने आगे के रास्ते को तय करती है।

Share market में दो तरह के लोग खरीदने और बेचने वाले होते हैं। जब खरीदने वाले लोग ज्यादा हो जाते हैं तो उस कंपनी के shares की कीमत भी बढ़ जाती है। share market पूरी तरह से supply और demand पर ही निर्भर करता है।

Share market में हजारों कंपनियां listed होती है। इतनी कंपनियों के उतार-चढ़ाव को track कर पाना संभव नहीं है। इसलिए स्टॉक मार्केट में indices बनाए गए हैं। sensex और nifty, यही दो सूचकांक हैं। BSE के लिए सेंसेक्स और NSE के लिए निफ्टी सूचकांक सुनिश्चित किया गया है। इन indices के जरिए कंपनी के उतार-चढ़ाव को आसानी से जान सकते हैं।

शेयर मार्केट के तीन मुख्य अंग हैं, स्टॉक एक्सचेंज , शेयर दलाल और निवेशक . शेयर बाजार में सभी लेन देन दलाल के माध्यम से ही संभब हैं। दलाली के लिए अब ऑनलाइन पोर्टल बन गए हैं जिनके माध्यम से आप काफी कम कमीशन में स्वयं ही लेनदेन कर सकते हो।

आप https://www.finnovationz.com/ वेबसाइट पर जाकर सिख सकते है की Stock Market या Share Market कैसे काम करता है, इत्यादि। 

Share Market में पैसे कैसे लगाए ?

दोस्तों शेयर मार्किट में आप अपना अकाउंट खोलते है उसे Demat Account कहते है और ये दो तरीको से Open होता है। 

1) आपको इसमें ऑफलाइन किसी शेयर मार्किट के ब्रोकर के पास जाकर खुलवाना होता है।  मैंने आपको बता दिया है की आपको Dematअकाउंट को अपने सेविंग अकाउंट से जोड़ना होता है ताकि जब share आपके खाता में direct आ सके। एक और बात की जब आप Demat Account खोलवाना चाहते है तो आपके पास एक सेविंग अकाउंट होना बहुत जरुरी है। 

2) आपको इसमें बैंक के मदद से खुल सकता है इसके बारे में मैं बता दूँ की ज्यादा फायेदा नहीं होगा क्यूकि Broker direct लिंक होता है share मार्किट से तो बस अब आप के ऊपर है आप किस तरह से Demat Account खुलवाना चाहते है। 



डीमैट अकाउंट क्या होता है?

जिस तरह से आप पैसे रखने के लिए बैंक में अकाउंट खुलवाते है ठीक उसी प्रकार से शेयर्स करने के लिए हमें डीमैट अकाउंट की  आवश्यकता पड़ती है। क्योकि शेयर कोई वस्तु नहीं है जिसे हम देख या छू सके। यह वर्चुअल फॉर्म में होता है। जब कम्पनी के शेयर्स खरीदते है तो वह हमारे डीमैट अकाउंट में स्टोर हो जाता है। डीमैट अकाउंट हमारे बैंक अकाउंट से जुड़ा होता है, शेयर्स खरीदने के लिए हम अपने बैंक अकाउंट से डीमैट अकाउंट में फण्ड ट्रांसफर करते है। और जब हम अपने शेयर्स को बेचते है तो हम अपने अमाउंट को अपने बैंक में ट्रांसफर कर लेते है।

दोस्तों किसी भी कंपनी में हिस्सेदारी खरीदना काफी आसान है सबसे पहले आपको डीमैट और ट्रेडिंग अकाउंट ओपन करना होता है उसके बाद आप की भी कंपनी की हिस्सेदारी खरीद सकते हैं आप यहां पर ₹100 से 10000 जाए 100000 उससे ज्यादा आप कंपनी में इन्वेस्ट कर सकते हैं कंपनी का मुनाफा होता है तो आप काफी मुनाफा होगा ।

शेयर मार्केट में इन्वेस्ट करना काफी आसान है बहुत सारे ऐप है जो फ्री में अकाउंट ओपन करते हैं जहां से आप इन्वेस्ट कर सकते हैं इसे डाउनलोड करें। 

Upstox App- यह बहुत अच्छा ऐप है इस एप से आप काफी आसानी से इन्वेस्टमेंट कर सकते हैं और इसमें आपको बहुत सारी न्यूज़ फीचर भी जाएगी इसे आप share के बारे में बहुत जानकारियां मिलती है इस ऐप में रतन टाटा ने भी इन्वेस्ट किया है यह सबसे अच्छी एप है शेयर मार्केट में इन्वेस्ट करने के लिए डाउनलोड करें- 

                                           Open A Demat Account Online

 आप angel broking के माध्यम से भी अकाउंट खुलवा सकते है। 

                                                        Zero Brokerage  


शेयर मार्केट में कम्पनियाँ शेयर कैसे बेचती है ?


शेयर बेचने के लिए कंपनियों को शेयर मार्केट में जाना होता है। 

शेयर बेचने लिए कंपनियों को स्टॉक एक्सचेंज में रजिस्ट्रेशन करवाना होता है। रजिस्ट्रेशन के लिए कंपनियों को सम्बन्धित जरूरी डॉक्युमेंट इसमें सबमिट करना होता है। फिर स्टॉक एक्सचेंज चेक करता है की SEBI के अनुसार जो भी जरूरी नियम दिए गए है क्या वह कम्पनी फॉलो करता है यदि कम्पनी SEBI के अनुसार सही होती है तो स्टॉक एक्सचेंज उसे अपने शेयर इशू करने का अप्रूवल दे देता है।

पहली बार शेयर्स इशू करने के लिए  कंपनियां प्राइमरी मार्केट में जाती है प्राइमरी मार्केट में लिस्ट होकर कंपनियां आईपीओ यानि (इनिशियल पब्लिक आफरिंग) के जरिये अपना शेयर पब्लिक में इशू करती है।

पहली बार कम्पनियाँ अपने शेयर्स के दाम खुद तय करती है और उसके बाद कम्पनी के लाभ हानि के आधार पर शेयर मार्केट से घटता और बढ़ता रहता है।


शेयर बेचने और खरीदने का क्या अर्थ है।

share market in hindi| डीमैट अकाउंट क्या होता है? इसमें अब हम बात करते है की शेयर कैसे बेचा जाता है और कैसे ख़रीदा जाता है ???  पहले के समय में शेयर खरीदने के लिए काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता था। लेकिन अब ऑनलाइन माध्यम से शेयर खरीदना काफी आसान हो गया है। आप घर बैठकर किसी भी कम्पनी के शेयर होल्डर बन सकते है।


शेयर खरीदने के लिए आपको सबसे पहले डीमैट अकाउंट खोलना पड़ता है। डीमैट अकाउंट आप किसी बैंक ब्रोकर की मदद खोल सकते है आजकल ऑलमोस्ट सभी बैंक डीमैट अकाउंट खोलने की सुविधा देते है।

मान लीजिये कम्पनी अपने 100 शेयर्स में से कुछ शेयर्स बेचना चाहती है।
अब एक शेयर की वैल्यू कम्पनी की कैपिटल का 1 % है तो अगर कम्पनी अपने 4 0 शेयर्स बेचना चाहती है तो इसका अर्थ है की कम्पनी अपनी 40 % वैल्यू या यूँ कहिये की हिस्सेदारी बेचना चाहती है।

share-market-kya-hai-in-hindi
Share_Market 

अगर कोई व्यक्ति 5 शेयर खरीदना चाहता है तो इसका अर्थ वह कम्पनी की 5 % हिस्सेदारी लेना चाहता है। 5 शेयर्स खरीदने के लिए उसे 1000 रूपये प्रति शेयर के हिसाब से 5000 रूपये कम्पनी भुगतान करने होंगे। जिससे वह कम्पनी का 5 % का हिस्सेदार या मालिक हो जायेगा। इसका अर्थ यह हुआ की अब यदि कम्पनी को लाभ होता है तो 5 % हिस्सा उस व्यक्ति को मिलेगा और यदि हानि होती तो 5 % उसे वहन करना पड़ेगा।

स्‍टॉक मार्केट में दो तरह से ट्रेडिंग होती है। एक तरीके में आप किसी शेयर को खरीद लेते हैं और बाद में फायदे में बेचते हैं। दूसरे तरीके में उसी दिन शेयर को खरीदते हैं और फायदे में बेच भी देते हैं। इस तरीके को डे ट्रेडिंग कहते हैं। डे ट्रेडिंग में आप किसी भी शेयर बेच या खरीद सकते हैं। उसी दिन शेयरों की खरीददारी को बॉय कॉल और पहले बेचने का शॉर्ट करना कहते हैं।


यह भी पढ़े: Google Search Console याGoogle WebMaster Tools क्या है ? अपने Website को कैसे Add करे Google Search Console में? [ Blogspot.com ]


क्या शेयर मार्केट में पैसे कमाना आसान है? 

{ शेयर मार्केट क्या है |share market in hindi| } अगर आप अख़बार पढ़ते है तो आप ने अवश्य सुना या पढ़ा होगा की आये दिन रिपोर्ट्स आती है कि 80-85 फीसदी निवेशक बाजार में असफल हो जाते हैं। यदि आप इस तरह के बाते देखते है या सुनते है तो ट्रेडिंग आसान नहीं है एक पहलु ये है की यदि शेयर बाजार में निवेश और रिटर्न्स आसान होता तो सभी व्यक्ति अपने दैनिक काम को छोड़कर बाजार में ही निवेश करते ।

देखिये दोस्तों ये आंकड़े दिखा कर मैं आपको डरा नहीं रहा हूं। ये एक ऐसी सच्चाई है जिसे नए निवेशक समझ नहीं पाते हैं और जिन्हें निवेश करने के बाद समझ मे आयी है। उनके पास अब अनुशासित निवेश के पैसे नहीं बचे हैं।इसीलिए जानकारी जरुरी है। 


अगर मैं कहु तो हाँ आप इसे अपनी मेहनत, सीखने की लगन और अनुभव के आधार पर आसान बना सकते हैं। ईमानदारी से कहू तो सच यही है कि स्टोक मार्केट को पैसा निकालने के उद्देश्य से बनाया गया है। यहां भी रीटेलर्स का पैसा बड़ी आसानी से लूटा जाता है। बड़े खिलाड़ी मार्केट को चलाते हैं। ऐसे में पैसा कमाना आसान नहीं है। वैसे मार्केट कि अच्छी समझ और अनुभव से पैसा कमाया जा सकता है। देखिये एक अच्छा निवेशक या ट्रेडर पहले नुकसान जरूर उठाता है। बाद में Experience के आधार पर उस Field में माहिर हो सकते है। 

शेयर मार्किट में पैसे लगाने के क्या फायदे होते हैं?

 मध्यम वर्ग के लोगों के लिए स्‍टॉक मार्केट में निवेश करने के कई फायदे हैं। यहाँ जरूरी नहीं है कि लंबे समय के लिए निवेश करके ही कमाई हो। यहां पर रोज कमाई का मौका भी मिलता है। इसके लिए जरूरी है कि स्‍टॉक मार्केट खुलने के पहले ही तैयारी कर ली जाए और फिर पोजिशन ले ली जाए। शेयर बाज़ार आपको कम समय में अधिक पैसे बनाने का मौका देती है। अगर आप बाजार की चल को समझ कर दाव लगाते हैं तो मुनाफ़े की उम्मीद बढ़ जाती है। बाज़ार की चाल को समझने के दौरान मुझे ICICI Direct के बारे में पता चला। इसके सरल इंटरफ़ेस और बाजार की हलचल पर बारीक विश्लेषण करने की क्षमता ने मुझे इसकी ओर आकर्षित किया। इस ऑनलाइन सेवा में अनोखे और हर निवेशक की जरुरत के अनुसार कई अन्य पैकेज उपलब्ध है जो मेरे जैसे नए खिलाडियों के लिए बिलकुल उपयुक्त हैं।

यह जानना जरूरी है कि शेयर बाजार में निवेश या कारोबार करने के लिए एक डीमैट अकाउंट और एक ट्रेडिंग अकाउंट हो। ICICI Direct के अलावा कई और शेयर ब्रोकर यह सेवाएं देते हैं। ये दोनो अकाउंट एक खुल जाते हैं। हालांकि इन अकाउंट को खुलवाने की औसतन 500 रुपए तक फीस ली जाती है, लेकिन ज्‍यादातर कंपनियां पहले एक साल के लिए यह अकाउंट फ्री खोल देती हैं।

कई ब्रोकरेज कंपनियां इन टिप्‍स के लिए प्रीमियम सर्विस भी देती हैं। रोज कमाई के लिए जरूरी नहीं है कि लोगों के पास बहुत पैसा हो, कुछ हजार रुपए में भी स्‍टॉक मार्केट से कमाई शुरू की जा सकती है।

आपको जो अच्छा नॉलेज हो तो आप शेयर मार्किट से अच्छा पैसा बना सकते हो। जो अपनी इनकम को जितना इन्वेस्ट करता हे वो उतना ही अमीर बनता जाता हे। और आपको अपने रिटायरमेंट की टेंशन भी दूर हो जाएगी।

जानते हैं आखिर शेयर मार्केट में पैसा कैसे डूबता है? शेयर बाजार में ज्यादातर लोगों का पैसा क्यों डूबता हैं?

ऐसे बहुत से कारण है जिस के कारण लोग शेयर मार्केट में सफल नही हो पाते है,चलिये में आज आपसे कुछ शेयर करता हूं,इससे आपको भी जानकारी हो जाएगी कि आखिर क्यों लोग शेयर मार्केट में सफल नही हो पाते है 

दोस्तों मैं आपको एक कहानी के माध्यम से समझाता हूँ ___ एक बार एक आदमी ने गाँव वालों से कहा कि वो 100 रु. में एक उल्लू खरीदेगा, ये सुनकर सभी गाँव वाले नजदीकी जंगल की ओर दौड़ पड़े और वहां से उल्लू पकड़ पकड़ कर 100 रु. में उस आदमी को बेचने लगे। कुछ दिन बाद ये सिलसिला कम हो गया और लोगों की इस बात में दिलचस्पी कम हो गयी। फिर उस आदमी ने कहा की वो एक-एक उल्लू के लिए 200 रु. देगा, ये सुनकर लोग फिर उल्लू पकड़ने मे लग गये लेकिन कुछ दिन बाद मामला फिर ठंडा हो गया। अब उस आदमी ने कहा कि हर एक उल्लू के लिए वह 500 रु. देगा, लेकिन क्यूंकि उसे शहर जाना था, उसने इस काम के लिए एक असिस्टेंट नियुक्त कर दिया। 500 रु. सुनकर गाँव वाले बदहवास हो गए, लेकिन पहले ही लगभग सारे उल्लू पकड़े जा चुके थे इसलिए उन्हें कोई हाथ नहीं लगा ...। तब उस आदमी का असिस्टेंट उनसे आकर कहता है "आप लोग चाहें तो सर के पिंजरे में से 400 -400 रु. में उल्लू खरीद सकते हैं, जब सर आ जाएँ तो 500-500 में बेच दीजियेगा।

गाँव वालों को ये प्रस्ताव भा गया और उन्होंने (100-200 रु. में बेचे हुए) सारे उल्लू 400 - 400 रु. में खरीद लिए।

अगले दिन न वहां कोई असिस्टेंट था और न ही कोई सर, बस थे तो सब उल्लू ही उल्लू। पैसा डूबने या गायब होने का कारन जानने से पहले हमें यह जानना जरुरी है की माकेट ऊपर जा रहा हे या निचे, आप तो ये जानते ही हे की मार्किट में किसी भी चीज की डिमांड होने पर उसकी प्राइस पर सीधे असर पड़ता है।

यदि आप $ 20 के लिए स्टॉक खरीदते हैं और फिर इसे केवल $ 10 के लिए बेचते हैं, तो आप (जाहिर है) $ 10 खो देंगे। ऐसा महसूस हो सकता है कि पैसा किसी और के पास जाना चाहिए, लेकिन यह बिल्कुल सच नहीं है। तो सवाल यह है कि पैसा कहां गया?


इस कहानी से हमें ये पता चलता है कि जैसे गांव वालों ने अपनी सूझ-बूझ यानि analysis का इस्तेमाल किए बिना ही और बिना business का purpose जाने बंदरों में इनवेस्टमेंट किया तो उनके सारे पैसे डूब गए ठीक वैसे ही स्टॉक मार्केट में हमें अच्छे से analysis करके इनवेस्टमेंट करना चाहिए नहीं तो हमारे loss होने के बहुत ज्यादा chances हैं।

साधारण सी बात हे की कोई भी व्यक्ति मार्किट में इन्वेस्ट प्रॉफिट के लिए ही करता हे, वह जिस प्राइस में स्टॉक खरीदता हे उसे यही उम्मीद होती हे की आगे चल कर उसका मूल्य बढ़ेगा ही , लेकिन ऐसा नहीं हे, स्टॉक मार्किट कभी भी एक जैसा नहीं होता हे, अगर आप स्टॉक मार्किट में इन्वेस्ट करते हे तो उसमे प्रॉफिट और लोस्स दोनों की सम्भावना होती हे। दूसरी तरफ देखा जाए तो स्टॉक मार्किट में इन्वेस्ट करते समय हमे लालच से दूर रहना चाहिए यह सबसे बड़ा कारन होता हे आपके पैसे के डूबने का। साथ ही आपको हमेशा एक स्टॉप लोस्स निर्धारित कर लेना चाहिये। स्टॉप लोस्स से आपका अधिक लोस्स होने से बच जाएगा। 

अब आप जान चुके है की क्या होता है Share Market का फन्दा मैं उम्मीद करता हु की आपको मेरी बात समझ में आई होगी, अगर आप ऊपर दी गई बातो के अनुसार ट्रेड करते हो तो आप भी यक़ीनन अच्छे से स्टॉक्स चुन कर ट्रेडिंग कर सकते है।


शेयर बाजार में नुकसान होने के सबसे बड़े और महत्वूर्ण कारण क्या है?

कुछ बेहद नुकसानदायक गलतियां इस प्रकार है। जो ज्यादेतर निवेशक कर बैठते हैं।

1)ज्यादे रिटर्न्स:

आज लोगों की एक मेंटेलिटी बन गयी है कि ज्यादा कमाना चाहता/चाहती है। इसलिए शेयर बाजार में निवेश करता/करती है।  तो दरअसल ये गलतियां निवेशक के द्वारा जरूर की जाती हैं लेकिन इसके लिए ज्यादा जिम्मेदार कुछ सलाहकार हैं।  क्यूकी, वे निवेशक को एक गलत राह दिखाते है या हम कह सकते है की एक लालच देते है की आप पहले इतना पैसे लगाईये और आपको monthly इतना मिलेगा .दोस्तों, मैं ये जानता हु  की एक अनजान राह पर चलना और किसी के सलाह पर चलना अच्छी बात है लेकिन आपको या  एक निवेशक को जागरूक होनी चाहिए की बाजार अन्य निवेश प्लेटफार्म की तुलना में आपको अधिक रिटर्न्स जरूर दे सकती हैं लेकिन इसका कतई ये अर्थ नहीं है कि आप एक दिन में करोड़ों रुपये बना लेंगे।

2)सीखना:

और,अगर मैं बात करू दूसरी सबसे बड़ी गलती है कि तो वो है एक निवेशक के मन मे कमाने की इक्षा तो होती है लेकिन वो सीखना नहीं चाहते हैं। देखिए मै जानता  हूं की एक व्यक्ति सब कुछ नहीं सीख सकता है क्योंकि सबके साथ समय की पाबंदी है। लेकिन हमें इतना जरूर सिख लेना चाहिए की जंहा पर हम पैसे लगते है उसकी थोड़ी सी जानकारी ले ली जाये। जिससे हम अपने निवेश को सुचारू रूप से आगे बढ़ा पाएं।यदि इन दो गलतियों को निवेशक रिकवर लें तो आगे की छोटी-मोटी गलतियां अपने आप रिकवर हो जाएंगी।


शेयर मार्किट में किसी भी अन्य जगह पर निवेश करने की तुलना में ज्यादा रिटर्न मिलता है परन्तु इसमें किसी और निवेश की तुलना में रिस्क भी ज्यादा होती है अगर आप हर महीने एक निश्चित राशि शेयर मार्किट में डाले तो एक निश्चित समय के बाद आपको बहुत ही अच्छा मुनाफा कमा सकते है।

शेयर मार्किट में निवेश करने से पहले इन बातो को ध्यान रखे:

> अच्छे क्वालिटी शेयर में निवेश करें।

> Over-smart बनना, Normally ऐसा होता है की अगर कोई व्यक्ति को 1-2 बार थोड़ा भी प्रॉफिट हो जाता है तो वो अपने आप को कुछ ज्यादा ही ऊँचा समझने लगता है,तो दोस्तो शेयर मार्केट में ज्यादा विश्वास भी खतरनाक साबित हो सकता है।

> लम्बे समय के लिए निवेश करे।

> हमेशा ऐसी रणनीति का प्रयोग करें जिसमे मुनाफा और नुकसान पहले से पता हो। एक बार रणनीति निश्चित कर ली फिर पूरे अनुशासन के साथ उसे प्रयोग में लाए। 

> सही कीमत पर ख़रीदे।

> सेल्फ स्टडी नाकि दूसरो के भरोसे किसी और के भरोसे आप कभी निवेश न करें, हमेशा अपनी सूझ बूझ और अध्ययन से ही निवेश करें।

> अपनी भावनाओं को को कंट्रोल में न रखना। ( भावुक नही अनुशासित शेयर बाजार में भावनाओं का बहुत बड़ा खेल होता है जिसमे अगर आप फस गए तो आपका पूरा पैसा डूब सकता है। किसी भी एक निवेश में भावना में बह कर अपनी पूंजी का बड़ा हिस्सा कभी न लगाएं। यहां हर रोज़ नई संभाबनाएँ बनती हैं अगर आप पूजी बचाने में कामयाब रहे तो आगे पैसे कमा लेंगे तो हमेशा अनुशासित रहे। )

> डर या लालच में आकर न तो ख़रीदे और न ही बेचे।

> शेयर मार्किट के रूल्स और रेगुलेशन को फॉलो न करना।और,

> लंबे समय के लिए शेयर्स ही सही हैं लेकिन सिर्फ अछि कंपनी के शेयर ख़रीदे न की किसी के भी, इत्यादि। 

आपको ध्यान रखना है की शेयर मार्केट में ज्यादा रिस्क हे। आपको जो शेयर मार्किट का अच्छा ज्ञान न हो तो आपके पैसे बर्बाद हो सकते हे। ज्यादातर लोग ज्यादा कमाने के चक्कर में बुरे शेयर में इन्वेस्ट कर देते हे और उसका पैसा दुब जाता हे।


क्या हमे शेयर मार्केट में इन्वेस्ट करना चाहिए ?


हा ,बिलकुल हमे शेयर मार्केट में इन्वेस्ट करने चाहिए। शेयर मार्किट एक ऐसा प्लेटफॉर्म हे जहा आपको नॉलेज हो तो आप पैस्सिव इनकम कमा सकते हो। शेयर मार्किट एक ऐसा मार्किट हे जो आपने बिना समजे पैसे इन्वेस्ट किये तो आपके पैसे डूब सकते है। इसीलिए हमे शेयर मार्किट में इन्वेस्ट करने से पहले सिख लेना चाहिए। और बादमे इन्वेस्ट करना चाहिए। शेयर मार्किट में इन्वेस्ट करना अच्छी आदत हे जिससे आप अपनी पैसिव इनकम कर सकते हो।

शेयर मार्केट में दो टाइप के इन्वेस्टमेंट होते हे।

Long Term Investment
Short Term Investment


शेयर मार्केट में सफलता का मूल मंत्र क्या है? 

शेयर मार्केट क्या है |share market in hindi| इसमें हम जानेंगे शेयर मार्किट में सफल होने का मन्त्र  तो सबसे पहले है उस से पहले शेयर मार्केट में सफलता का कोई एक या मूल मंत्र नही हो सकता।

  • शान्त दिमाग।
  • बेहतर रणनीति।
  • जोखिम का प्रबंधन।और 
  • जिस भी कम्पनी में इन्वेस्ट करे वो अपने षेत्र की सबसे अग्रणी कम्पनी हो, जैसे:- Reliance Industries, Titan, Asian Paints,TCS, Bajaj Finace, HDFC Bank, इत्यादि।  


demat-account-in-share-market
शेयर मार्किट से क्या लाभ है और क्या हानि 

Disclaimer 


शेयर मार्किट में निवेश करना अच्छी बात हे और आप सभी को निवेश करना चाहिए लेकिन आपको पहले शेयर मार्किट का ज्ञान होना बहोत आवश्यक हे. इसीलिए आप शेयर मर्केट ज्ञान हिंदी में भी ले सकते हो (Share market in Hindi ) और अपनी पैसिव इनकम बढ़ा सकते हो। 


निवेश करना नहीं करना आपका निर्णय है,क्योंकि पैसा आपका है,यह एक व्यंग्य है इस पर दिमाग से विचार करें और दिल पर ना लें।आम तौर पर हम पाते हैं 70 % मामलों में हमने जो शेयर 20 हज़ार के सेंसेक्स पर खरीदा था वह आज 38000 के बाज़ार पर भी उतना ही है या उससे कहीं कम अत: अगर प्रस्तुत व्यंग्य से कोई अच्छा संदेश निकले तो उसे अपनाए अन्यथा जाने दें।आप अपने दिमाग़ इस्तेमाल करे Share Market में पैसे लगाने से पहले आपके लिए अच्छा होगा।  


Conclusion 


आप जान पाए की क्या होता है Share Market  व Stock Market ((( शेयर मार्किट क्या है : शेयर मार्किट एक ऐसा बिज़नेस है जहां पर दूसरे बिज़नेस की खरीदी और बिक्री होती है जब किसी कंपनी को अपने बिज़नेस को और आगे बढ़ाने के लिए पैसो की जरुरत होती है तो वह अपने शेयर स्टॉक मार्किट में जारी कर देती है और जिस किसी भी व्यक्ति को उस कंपनी और उसके बिज़नेस पर भरोसा होता है वह उस कंपनी के शेयर खरीद लेता है जितने शेयर किसी निवेशक ने उस कंपनी के ख़रीदे है वह उतना प्रतिशत उस कंपनी का मालिक बन जाता है यही शेयर मार्किट है। कंपनी अपने शेयर बेचके जो पैसा स्टॉक मार्किट से उठाती है उस पैसे को कंपनी अपने व्यापार में लगाती है जिससे कंपनी का व्यापार बढ़ता है व्यापार के बढ़ने से कंपनी को प्रॉफिट होता है और उस प्रॉफिट को वह अपने हिस्सेदारो में बाँट देती है जिसे लाभांश कहते है। लाभांश के अलावा कंपनी के शेयर की कीमत बढ़ने के वजह से भी निवेशकों को लाभ होता है।))) क्या होते है, हम उसमे कैसे पैसे लगा सकते है, कैसे हम महीनों के लाखों कमा सकते है एक सही अनुमान के साथ, साथ ही आप ने जाना की कैसे हम एक Demate Account खोल सकते है। और, डीमेट अकाउंट क्या होता है आप ये सब जान चुके है। अब आप अपने दोस्तों को इस Share Market के बारे में बता सकते है। आप और आपके दोस्तों Share Market से सम्बंधित चर्चे भी कर सकते है .बहुत से लोगो का इस तरह से भी प्रश्न होते है जैसे की___ क्या है शेयर मार्केट ?

कैसे शेयर मार्केट काम करता है ?
क्या हमे शेयर मार्केट में इन्वेस्ट करना चाहिए ?
शेयर मार्केट से हमे कितना रिटर्न मिलता हे ?
शेयर मार्केट लाभ क्या है ?
शेयर मार्केट के नुकसान क्या क्या है ?
शेयर बाजार में नुकसान होने के सबसे बड़े और महत्वूर्ण कारण क्या है?

तो दोस्तों मैंने सारे प्रश्न को Cover Up कर दिया है आप समझ गए होंगे अगर आप ने पूरी सीदत से मेरे इस आर्टिकल को पढ़े होंगे तो। 

अगर फिर भी आपके मन में कोई भी सवाल है तो आप कमेंट में अपना Question पूछ सकते है।  
अगर आप सब को मेरे इस आर्टिकल से कुछ ज्ञान मिला या आप ने कुछ जाना तो Please इस आर्टिकल को अपने दोस्तों और रिश्तेदारों में Share करे। और अगर आप कुछ पूछना चाहते है या आप कोई और टॉपिक से related आर्टिकल चाहते है तो भी Comment करे नहीं तो आप Facebook और Instagram पर भी Follow कर सकते है और पूछ सकते है। 

जय हिंद जय भारत ( हिंदुस्तानी है हम )

धन्यवाद!

Posted By: Ainesh Kumar

यह भी जाने:





Previous
Next Post »

मैं आप सबका शुक्रिया अदा करता हूँ की आप ने मेरे आर्टिकल को पढ़ा और इतना सारा प्यार दिया . अब अगर आप को कोई Confusion है, तो आप कमेन्ट में पूछ सकते है .धन्यवाद . ConversionConversion EmoticonEmoticon